अब घर बैठे मिल सकेगा एसबीआई के उपभोक्ता को ई-लोन – एसबीआई ने २१४ उपभोक्ताओं को दिया डेढ़ करोड़ का ई-लोन

0

बिना दस्तावेज व प्रोसेसिंग फीस के मिनटो में पहुंचेगी खाते में लोन की राशि

नसरुल्लागंज – रेवाशंकर शर्मा

यदि आप भारतीय स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के उपभोक्ता है और अपने जरूरी कामो को निपटाने के लिए अपनी बैंक शाखा से लोन लेना चाहते हैं तो अब आपको को लोन लेने के लिए बैंक के चक्कर नहीं कांटने पड़ेगें। एसबीआई ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिजीटल इंडिया कासेप्ट को बढ़ावा देते हुए व अपने उपभोक्ताओं को सुविधा प्रदान करते हुए ई-लोन सुविधा शुरु की हैं। इस सुविधा के शुरु होने से अब उपभोक्ताओं को बैंक से लोन लेने पर होने वाली परेशानियों से निजात मिल सकेगी।

एसबीआई शाखा के प्रबंधक विजय वर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि ऐसा पहली बार होगा कि बैंक के उपभोक्ताओं को बिना किसी खर्च व चार्ज के मिनटो में बैंक से २० हजार से २ लाख रुपए तक का लोन आसानी से मिल सकेगा। श्री वर्मा ने बताया कि 1 अक्टूबर से शुरु की गई इस स्कीम के तहत अभी तक बैंक के २१४ उपभोक्ताओं को डेढ़ करोड़ रुपए से अधिक की राशि ई-लोन के माध्यम से दी जा चुकी हैं।

सालभर में लगेगा दो लाख पर १६ हजार का ब्याज – ई-लोन स्कीम दो अलग-अलग तरह से लागू की गई है, जिसमें १२ से १४ प्रतिशत तक की ब्याज दर निर्धारित की गई हैं। यदि कोई उपभोक्ता दो लाख रुपए तक का लोन बैंक से लेना चाहता है तो उसे एक साल में १६ हजार रुपए तक ब्याज भरना होगा।

२ से ४ हजार रुपए तक होगी बचत- ई-लोन सुविधा के माध्यम से उपभोक्ताओं को ना तो दस्तावेजों का भार नहीं उठाना पड़ेगा और ना ही कोई प्रोसेसिंग फीस देना होगा। इस सुविधा से उपभोक्ताओं को २ से ४ हजार रुपए तक होने वाले खर्च की बचत हो सकेगी। साथ ही बैंक के ज्यादा चक्कर भी नहीं कांटना पड़ेगें।

इंटरनेट बैंकिंग होना अनिवार्य- ई-लोन लेने के लिए सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण उपभोक्ता का बैंक शाखा से इंटरनेट बैकिंग की सुविधा होना अनिवार्य होगा। इसके लिए उपभोक्ता को एक बार एसबीआई बैंक शाखा में जाना पड़ेगा। जहां से इंटरनेट बैकिंग का यूजरआईडी और पासवर्ड मिलने के बाद बैंक कर्मचारी उसे ई-लोन की सारी प्रोसेस के बारे में सरल जानकारी देगें। इसके बाद मिनटो में उपभोक्ता द्वारा ली जाने वाली राशि उसके खाते में पहुंच जाएगी।

ई-लोन के तहत अभी तक २१४ उपभोक्ता लाभान्वित हो चुके हैं। लोन की राशि मिनटो में पहुंच सकेगी। नेट बैकिंग की सारी जानकारी उपभोक्ता को बैंक से प्रदान की जाएगी। उपभोक्ताओं को सुविधा मिलने के बाद उन्होंने बैंक को धन्यवाद भी दिया।