पुलिस का सूचना तंत्र सुदृढ़ हो एवं कार्रवाई में पूरी पारदर्शिताः आईजी केसी अग्रवाल

0

जशपुरनगर छत्तीसगढ़

रतेश शर्मा

पुलिस का सूचना संकलन सुदृढ़ हो तथा सभी राजनैतिक दलों से सतत सम्पर्क रख कर कार्रवाई में निष्पक्षता बनाऐ रखने से ही चुनाव की चुनौतियों से आसानी के साथ निपटा जा सकता है। उक्त बातें लोकसभा चुनाव से पहले जशपुर में पुलिस अधिकारियों की बैठक के दौरान सरगुजा आईजी कैलाशचन्द्र अग्रवाल ने कही।

उन्होने कहा कि हर चुनाव में पुलिस के सामने नई चुनौतियंा रहती हैं। झारखंड और उड़ीसा राज्य का सीमावर्ती जशपुर जिला में विधानसभा चुनाव शांतिपूर्ण सम्पन्न हो जाने का यह तात्पर्य नहीं है कि लोकसभा चुनाव भी आसान रहे। उन्होने कहा चुनाव के दौरान पुलिस को सूचना तंत्र को काफी सुदृढ़ बनाना होगा। पुलिस को अपनी कार्रवाई करते समय पारदर्शिता बनाए रखने की अहम जरूरत होती है। यंहा दो राज्यों का सरहदी इलाका के साथ यह बेहद संवेदनशील जिला है। यंहा के लोग पढ़े लिखे और मुखर हैं। इनसे पुलिस का बर्ताव सदैव अच्छा होना चाहिऐ।

श्री अग्रवाल ने बताया कि पुलिसकर्मियों को यह जानना बेहद जरूरी है कि उन्हे क्या नहीं करना चाहिए। दरअसल प्रत्येक पुलिस कर्मी के कामकाज पर हर समय जनता की निगाहें बनी रहती हैं। पुलिस थाने का काम, व्हीआईपी डयूटि, न्यायालय का काम तथा सार्वजनिक स्थल पर तैनाती के समय पुलिस कर्मी को इस बात पर विषेश ध्यान देने की जरूरत है कि उसे क्या नहीं करना चाहिए। पुलिस को कानून व्यवस्था सुदृढ़ रखने के लिए सरगुजा रेंज के सभी जिलों से 100 लोगों को प्रशिक्षण दिया जाएगा। े पखवाड़ा का विशेष प्रशिक्षण के दौरान सभी जिलों से चुनिंदा हवलदार और सिपाहियों को बुलाया जाएगा।

श्री अग्रवाल ने पुलिस कर्मियों को कड़ी हिदायत देते हुए कहा कि जुआ और सटटा जैसा घृणित अपराध पर दबिश देने के लिए पड़ोसी थाने का पुलिस बल को नहीं जाना पड़े।ऐसे अपराध सामने आने पर उस क्षेत्र के पुलिस अधिकारी को दंडित किया जाऐगा। श्री अग्रवाल ने कहा कि पत्थलगांव में बदमाशों का जुआ अडडा पर जिले से पुलिस बल भेज कर दबिश देने की घटना से सभी थाना प्रभारियों को सबक ले लेना चाहिए।

जशपुर में आयोजित इस बैठक में एसपी शंकर लाल बघेल,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक , जिले के सभी एसडीओपी तथा पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।