IPL Chennai Super King MS Dhoni Ambati Rayudu Faf Du Plessis Rohit Sharma | पहली जीत के बाद धोनी ने कहा-अनुभव हमेशा काम आता है, हमारी टीम में ज्यादातर रिटायर्ड प्लेयर्स थे इसलिए इंजरी का खतरा भी नहीं था

8


  • Hindi News
  • Sports
  • IPL Chennai Super King MS Dhoni Ambati Rayudu Faf Du Plessis Rohit Sharma

नई दिल्लीएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

धोनी ने रायडू और डु प्लेसिस की साझेदारी को महत्वपूर्ण बताया

  • रोहित ने डु प्लेसिस और रायडू की तारीफ की कहा-हमारा कोई भी बल्लेबाज डुप्लेसिस और रायुडु की तरह पारी को आगे नहीं बढ़ा पाया
  • मैन ऑफ द मैच रहे अंबाती रायडू (71) और फाफ डु प्लेसिस (58) ने संभाला और तीसरे विकेट के लिए 115 रन की पार्टनरशिप की

आईपीएल के पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के जीत के बाद टीम के कैप्टन महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि अनुभव हमेशा काम आता है। उन्होंने कहा कि टीम के अनुभव ने जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। यह अनुभव आपको बहुत सारे गेम खेलने के बाद आता है। आप उस अनुभव से सीखते हैं। उन्होंने कहा कि 300 मैच खेलना हर खिलाड़ी का सपना होता है।

उनकी टीम को अभी कुछ सुधार करने की जरूरत है। धोनी ने कहा, ‘काफी सकारात्मक पक्ष रहे लेकिन कुछ टाइमिंग को लेकर काम करने की जरूरत है। उन्होंने कहा बाद में खेलते हुए ओस पड़ने तक थोड़ा मूवमेंट रहता था। ऐसे में अगर आपके पास विकेट बचे हों तो आप फायदे में रहते हो।’ मुंबई ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर नौ विकेट पर 162 रन बनाए।

धोनी ने रायडू और डु प्लेसिस की तारीफ

धोनी ने रायडू और डु प्लेसिस की साझेदारी को महत्वपूर्ण करार देते हुए कहा, ‘हमारे गेंदबाजों को लय हासिल करने में समय लगा। रायडू ने फाफ के साथ बेहतरीन साझेदारी निभाई। हमारे अधिकतर खिलाड़ी संन्यास ले चुके हैं इसलिए अच्छी बात यह है कि हमारा कोई खिलाड़ी चोटिल नहीं है।’ उन्होंने कहा कि मैदान पर उतरना अलग तरह का अहसास होता है।

रायडू और डु प्लेसिस के बीच 115 रन की साझेदारी

163 रन के टारगेट का पीछा करने उतरी महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली सीएसके की शुरुआत बेहद खराब रही थी। टीम ने शुरुआती 2 ओवर में ही दो विकेट गंवा दिए थे। पारी को मैन ऑफ द मैच रहे अंबाती रायडू (71) और फाफ डु प्लेसिस (58) ने संभाला और तीसरे विकेट के लिए 115 रन की पार्टनरशिप की। इस जीत के साथ सीएसके 2 पॉइंट्स हासिल कर टैली में टॉप पर है। मुंबई का 2013 से लेकर अब तक अपना पहला मैच गंवाने का क्रम बरकरार रहा।

रोहित ने कहा अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाने का नुकसानमुंबई इंडियंस टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने स्वीकार किया कि डेथ ओवरों में अच्छी बल्लेबाजी नहीं कर पाने का उनकी टीम को नुकसान हुआ। उन्होंने कहा, ‘हमारा कोई भी बल्लेबाज डुप्लेसिस और रायडू की तरह नहीं खेल पाया। पहले दस ओवर में 86 रन बनाए थे। चेन्नई के गेंदबाजों ने आखिरी ओवरों में अच्छी गेंदबाजी की।” रोहित ने कहा, ‘हमें इससे सबक लेने की जरूरत है। अभी शुरुआत है। हम भी अच्छी शुरुआत करना चाहते थे। इस तरह के टूर्नामेंट में यह महत्वपूर्ण होता है।’

0



Source hyperlink