Explosion in a firecracker manufacturing facility working a few of the inhabitants; five lifeless, four in important situation | बिजनौर में पटाखा फैक्ट्री में धमाका, five मजदूरों की मौत, four की हालत गंभीर; फैक्ट्री मालिक गिरफ्तार

16


Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बिजनौरnine मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
हादसे के वक्त फैक्ट्री के बाहर ताला लगा हुआ था। ऐसे में आशंका है कि पटाखे बनाने का काम अवैध रूप से चल रहा था। हालांकि, फैक्ट्री मालिक ने लाइसेंस होने की बात कही है। - Dainik Bhaskar

हादसे के वक्त फैक्ट्री के बाहर ताला लगा हुआ था। ऐसे में आशंका है कि पटाखे बनाने का काम अवैध रूप से चल रहा था। हालांकि, फैक्ट्री मालिक ने लाइसेंस होने की बात कही है।

उत्तर प्रदेश में बिजनौर जिले के बक्शीवाला इलाके में पटाखा फैक्ट्री में गुरुवार को अचानक विस्फोट हो गया। हादसे के दौरान फैक्ट्री में काम कर रहे five मजदूरों की मौत हो गई, जबकि four की हालत गंभीर बनी हुई है। घायलों का बिजनौर के जिला अस्पताल में इलाज चल रहा है।

फैक्ट्री में धमाका दोपहर करीब 1 बजे हुआ, तब वहां nine लोग काम कर रहे थे। आशंका जताई जा रही है कि बारूद में आग लगने की वजह से विस्फोट हुआ होगा। फिलहाल, पुलिस और प्रशासन पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।

बताया जा रहा है कि पटाखा फैक्ट्री कॉलोनी के बीच में है। बख्शीवाला इलाके के बुखारा गांव निवासी यूसुफ ने एक मकान किराए पर ले रखा है। इसी में पटाखे बनाने का कारखाना चल रहा था। विस्फोट की वजह से मकान का एक हिस्सा पूरी तरह से ढह गया। आसपास के लोग जब मौके पर पहुंचे तो देखा कि अंदर काम कर रहे five लोगों मौत हो चुकी थी, जबकि four लोग गंभीर रूप से घायल थे।

फैक्ट्री में बाहर से ताला लगा हुआ था
लोगों ने बताया कि मकान के अंदर यूसुफ nine मजदूरों से पटाखे तैयार करा रहा था। इस दौरान उसने मकान के बाहर से ताला लगा रखा था। ऐसे में आशंका है कि फैक्ट्री अवैध रूप से चल रही थी। उधर, धमाके की सूचना पर बिजनौर के SP डॉ. धर्मवीर सिंह भी मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। उन्होंने बताया कि यूसुफ को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने फैक्ट्री का लाइसेंस होने की बात कही है।

मुख्यमंत्री ने DM और SP से रिपोर्ट मांगी
हादसे की सूचना के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मृतकों के परिवारों के प्रति संवेदना जताई। साथ ही सीनियर अफसरों को मौके पर रह कर पीड़ितों की हरसंभव मदद करने को भी कहा है। उन्होंने इस पूरे मामले में DM और SP से रिपोर्ट मांगी है।

खबरें और भी हैं…



Source link