Dow Jones Live| Dow Jones opened down 224 issues, declining in markets international together with India-China-Japan; UN says world business down 3% in March quarter | 224 अंक नीचे खुला डाउ जोंस, भारत-चीन-जापान समेत दुनियाभर के बाजारों में गिरावट; संयुक्त राष्ट्र्र ने कहा- मार्च तिमाही में 3% घटा वैश्विक व्यापार

43


  • बाजार खुलते समय डाउ जोंस 23023, नैस्डैक 8793 और एसएंडपी 2792 अंक पर कारोबार कर रहे थे
  • अमेरिका में 24 घंटे में 1813 लोगों की मौत हुई है और 21 हजार 712 संक्रमित मिले हैं
  • संयुक्त राष्ट्र ने वैश्विक अर्थव्यवस्था में 3.2 फीसदी गिरावट की चेतावनी दी है

दैनिक भास्कर

May 14, 2020, 07:09 PM IST

न्यूयॉर्क. गुरुवार को अमेरिकी बाजार गिरावट के साथ खुले। डाउ जोंस 0.96 फीसदी की गिरावट के साथ 224 अंक नीचे खुला। नैस्डैक 0.78 फीसदी की गिरावट के साथ 69 अंक नीचे और एसएंडपी 0.98 फीसदी की गिरावट के साथ 27 अंक नीचे खुला। बाजार खुलते समय डाउ जोंस 23023, नैस्डैक 8793 और एसएंडपी 2792 अंक पर कारोबार कर रहे थे।
गुरुवार को दुनियाभर के सभी बाजारों में गिरावट रही। कनाडा का एसएंडपी टीएसएक्स 50 अंक और मैक्सिको का आईपीसी 1068 अंक नीचे बंद हुआ। वहीं, जापान का निक्केई 352 अंक, चीन का शंघाई कम्पोसिट 27 अंक, हॉन्ग-कॉन्ग का हैंग सैंग 350 अंक, भारत का निफ्टी 240 अंक और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 15 अंक नीचे गिरकर बंद हुए। फ्रांस का CAC 40, रूस का MICEX, रूस का FTSE MIB और जर्मनी का DAX में भी इस समय गिरावट में कारोबार कर रहे हैं।

फ्रांस का CAC 40, रूस का MICEX, रूस का FTSE MIB और जर्मनी का DAX में भी इस समय गिरावट में कारोबार कर रहे हैं

बुधवार को गिरावट के साथ बंद हुआ था डाउ जोंस

बुधवार को डाउ जोंस 2.17 फीसदी यानी 516 अंक की गिरावट के साथ 23248 अंक पर बंद हुआ था।
नैस्डैक 1.55 फीसदी यानी 139 अंक की गिरावट के साथ 8863 अंक पर और एसएंडपी 1.75 फीसदी यानी 50 अंक की गिरावट के साथ 2820 अंक पर बंद हुआ था।

बुधवार को डाउ जोंस 2.17 फीसदी यानी 516 अंक की गिरावट के साथ 23248 अंक पर बंद हुआ था

अमेरिका: 24 घंटे में 1813 मौतें

अमेरिका में 24 घंटे में 1813 लोगों की मौत हुई है और 21 हजार 712 संक्रमित मिले हैं। इस समय देश में 14 लाख 30 हजार 653 लोग संक्रमित हैं। वहीं, 85 हजार 234 लोगों की जान जा चुकी है। देश के सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य न्यूयॉर्क में तीन लाख 50 हजार से ज्यादा केस मिल चुके हैं, जबकि 27 हजार से ज्यादा मौत हो चुकी है। उधर, राष्ट्रपति ट्रम्प लॉकडाउन हटाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि वे संक्रमक रोग विशेषज्ञ एंथनी फॉसी के पक्ष में नहीं हैं। फॉसी ने कहा था कि अर्थव्यवस्था खोलने से संक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ सकता है। ट्रम्प ने कहा कि मैं उनसे सहमत नहीं हूं।

कोरोनावायरस शायद कभी खत्म नहीं हो, दुनिया इसके साथ जीना सीख ले- डब्ल्यूएचओ
विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के इमरजेंसी प्रोग्राम के प्रमुख डॉ. माइक रेयान ने कहा है कि कोरोना कभी खत्म नहीं होने वाली बीमारी बन सकती है। दुनिया को इसके साथ जीना सीख लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि एचआईवी भी अब तक खत्म नहीं हुआ है, लेकिन हम उसके साथ जी रहे हैं।

मार्च तिमाही में Three फीसदी घट गया वैश्विक व्यापार- संयुक्त राष्ट्र्र
कोविड-19 महामारी के कारण इस साल की पहली तिमाही (जनवरी-मार्च) में अंतरराष्ट्रीय व्यापार तीन फीसदी घट गया है। यह बात संयुक्त राष्ट्र के व्यापार संगठन युनाइटेड नेशंस कांफ्रेंस ऑन ट्र्रेड एंड डेवलपमेंट (अंकटाड) ने अपनी एक नई रिपोर्ट में कही। अंकटाड ने कहा कि अप्रैल-जून तिमाही में अंतरराष्ट्र्रीय व्यापार मार्च तिमाही के मुकाबले 27 फीसदी घट सकता है। अंतरराष्ट्रीय व्यापार में जहां गिरावट दर्ज की गई है, वहीं कमोडिटी की कीमतें भी काफी घट गई है। पिछले दिसंबर से अब तक कमोडिटी की कीमतों में भारी गिरावट आई है।

संयुक्त राष्ट्र ने वैश्विक अर्थव्यवस्था में 3.2 फीसदी गिरावट की चेतावनी दी है
कोरोनावायर महामारी के कारण अंतरराष्ट्रीय व्यापार में गिरावट आने से पहले अंतरराष्ट्रीय वस्तु व्यापार के वॉल्यूम और वैल्यू में थोड़ी तेजी दिख रही थी। यह तेजी 2019 के आखिरी हिस्से के बाद से दिख रही थी। गौरतलब है कि संयुक्त राष्ट्र ने बुधवार को जारी एक अनुमान में कहा है कि कोरोनावायरस महामारी के कारण वैश्विक अर्थव्यवस्था में 3.2 फीसदी गिरावट आ सकती है। साथ ही आर्थिक गतिविधियां बाधित होने और अनिश्चितता बढ़ने से 1930 के बाद की सबसे बड़ी मंदी का संकट खड़ा हो गया है।

गुरुवार को भारतीय बाजार भी गिरावट के साथ बंद हुआ
सप्ताह में आज गुरुवार को कारोबार के चौथे दिन बाजार भारी गिरावट के साथ बंद हुआ। सुबह सेंसेक्स 542.28 अंक नीचे और निफ्टी 169.6 पॉइंट नीचे खुला। दिनभर की ट्रेडिंग के दौरान सेंसेक्स 955 अंक से ज्यादा नीचे गिर गया। ऐसा लग रहा था कि 20 लाख करोड़ रुपए के आत्मनिर्भर भारत अभियान पैकेज की घोषणा के दूसरे दिन भी बाजार में बढ़त रहे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।
कारोबार के अंत में सेंसेक्स 885.72 अंक या 2.77% नीचे 31,122.89 पर और निफ्टी 240.80 पॉइंट या 2.57% नीचे 9,142.75 पर बंद हुआ। इससे पहले बुधवार को बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ था। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 637.49 अंक ऊपर 32,008.61 पर और निफ्टी 187.00 पॉइंट ऊपर 9,383.55 पर बंद हुआ। 

इससे पहले बुधवार को बाजार बढ़त के साथ बंद हुआ था। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 637.49 अंक ऊपर 32,008.61 पर और निफ्टी 187.00 पॉइंट ऊपर 9,383.55 पर बंद हुआ।



Source link