नहीं थम रहा जंगली हाथियों का उत्पात. पत्थलगांव के तीन गांव में सात घरों को किया तहस नहस

0

पत्थलगांव छत्तीसगढ़
रमेश शर्मा

जशपुर जिले का तपकरा और पत्थलगांव वन परिक्षेत्र में तीन दिनों से जंगली हाथियों का उत्पात रोक पाने में वन विभाग का अमला पूरी तरह से विफल हो गया है। जंगली हाथियों को आबादी क्षेत्र से खदेड़ने के लिए वन विभाग व्दारा कर्नाटक से लाए गए प्रशिक्षित हाथी व सुरक्षा उपायों से लैस मंहगी वाहन भी अनुपयोगी साबित हो रही है।

आज बीती रात जंगली हाथियों ने लुड़ेग के सीम 3 गांवों में जमकर उत्पात मचा कर 7 लोगों के घरों को तहस नहस कऱ डाला। जंगली हाथियों का उत्पात से प्रभावित दर्जन भर गांव के लोगों में खासा आक्रोश व्याप्त है।

पत्थलगांव वन परिक्षेत्र अधिकारी कृपासिंधु पैंकरा ने आज बताया कि पड़ोसी राज्य उडीसा से आया 9 जंगली हाथियों का दल काफी आक्रामक हो जाने से यंहा किसानों की साग सब्जी फसल के साथ आबादी क्षेत्र पहुंच कर उनके घरों में भी तोड़ फोड़ कर रहे हैं।

आज बीती रात जंगली हाथियों ने पत्थलगांव के समीप सुरजगढ़, बेलडेगी और लुड़ेग क्षेत्र में जमकर उत्पात मचा कर 7 किसानों के घरों को तोड़ डाला। इन दिनों यंहा शाम होते ही जंगली हाथियों की चिंघाड़ सुनकर ग्रामीणों को अपने घरों को छोड़ कर आस के पक्के मकान अथवा सुरक्षित स्थान पर अलाव जला कर रात गुजारनी पड़ रही है। जंगली हाथियों का उत्पात रोकने के लिए तैनात वन कर्मियों की टिम सर्च लाईट और फटाकों का शोर मचाने के बाद भी ग्रामीणों को जंगली हाथियों से राहत नहीं मिल पा रही है।भास्कर न्यूज/जशपुर नगर
जशपुर जिले का तपकरा और पत्थलगांव वन परिक्षेत्र में तीन दिनों से जंगली हाथियों का उत्पात रोक पाने में वन विभाग का अमला पूरी तरह से विफल हो गया है। जंगली हाथियों को आबादी क्षेत्र से खदेड़ने के लिए वन विभाग व्दारा कर्नाटक से लाए गए प्रशिक्षित हाथी व सुरक्षा उपायों से लैस मंहगी वाहन भी अनुपयोगी साबित हो रही है।

आज बीती रात जंगली हाथियों ने लुड़ेग के सीम 3 गांवों में जमकर उत्पात मचा कर 7 लोगों के घरों को तहस नहस कऱ डाला। जंगली हाथियों का उत्पात से प्रभावित दर्जन भर गांव के लोगों में खासा आक्रोश व्याप्त है।

पत्थलगांव वन परिक्षेत्र अधिकारी कृपासिंधु पैंकरा ने आज बताया कि पड़ोसी राज्य उडीसा से आया 9 जंगली हाथियों का दल काफी आक्रामक हो जाने से यंहा किसानों की साग सब्जी फसल के साथ आबादी क्षेत्र पहुंच कर उनके घरों में भी तोड़ फोड़ कर रहे हैं।

आज बीती रात जंगली हाथियों ने पत्थलगांव के समीप सुरजगढ़, बेलडेगी और लुड़ेग क्षेत्र में जमकर उत्पात मचा कर 7 किसानों के घरों को तोड़ डाला। इन दिनों यंहा शाम होते ही जंगली हाथियों की चिंघाड़ सुनकर ग्रामीणों को अपने घरों को छोड़ कर आस के पक्के मकान अथवा सुरक्षित स्थान पर अलाव जला कर रात गुजारनी पड़ रही है। जंगली हाथियों का उत्पात रोकने के लिए तैनात वन कर्मियों की टिम सर्च लाईट और फटाकों का शोर मचाने के बाद भी ग्रामीणों को जंगली हाथियों से राहत नहीं मिल पा रही है।