Bollywood News In Hindi : Director Shashank Khaitan clarified on postponing two films with varun dhawan and fake casting call | फेक कास्टिंग कॉल और वरुण धवन के साथ दो फिल्में टालने पर डायरेक्टर शशांक खेतान ने दी सफाई

7


दैनिक भास्कर

Jun 13, 2020, 05:00 AM IST

अमित कर्ण.

लॉकडाउन में फिल्मों और वेब शो की शूटिंग ठप्प है। ऐसे में काम से दूर रह रहे लोगों में फिर से वापसी करने की बेताबी है। खासतौर पर स्ट्रगलिंग एक्टर्स में। ऐसे में उनकी मजबूरी का फायदा उठाने वाले लोग भी कम नहीं हैं। आए दिन किसी न किसी बड़े स्टार और प्रोड्यूसर के बैनर से फिल्मों की कास्टिंग कॉल सर्कुलेट हो रही है। एकाध हफ्ते पहले सलमान खान और बाद अक्षय कुमार के साथ फिलहाल टू पर फेक कास्टिंग कॉल उठी।

अब शुक्रवार को धर्मा प्रोडक्शन की तरफ से  ‘मिस्टर लेले’ की कास्टिंग की कई कलाकारों को फेक कॉल गई। इतना ही नहीं उसने संबंधित एक्टर से ऑडिशन के लिए पैसे और फेवर की भी डिमांड की गई है। इस पर डायरेक्टर शशांक खेतान में स्थिति स्पष्ट की। सोशल मीडिया पर साफ कहा कि फिल्म अभी रुकी हुई है ऐसे में इसकी कास्टिंग कॉल पर भरोसा ना रखें। इस बारे में डायरेक्टर शशांक ने भास्कर को दिए इंटरव्यू में बातचीत की है।

फेक कास्टिंग कॉल्स वालों को कैसे दंडित किया जाना चाहिए? 

मैंने अपने सोशल मीडिया पोस्ट पर इस बारे में लिख दिया है। यह गुनाह है। ऐसा करने वाले सजा के हकदार हैं। फिल्म अभी शुरू नहीं होगी इस बारे में मैंने मार्च में ही पोस्ट डाला था। करण, वरुण और मैंने मिलकर सभी की सहमति से तय किया था कि फिल्म की शूटिंग आगे टलेगी। मैं और वरुण फिर साथ आएंगे। या तो इसी फिल्म पर या किसी और प्रोजेक्ट पर। फिलहाल वह फिल्म अभी नहीं बनेगी। 

करण और वरुण के बैनर को आप से काफी उम्मीदें हैं? 

मुझे अपने आप से भी काफी उम्मीदें हैं। मगर अभी जो हालात हैं, उसके प्रति हमें काफी जवाबदेह भरा नजरिया रखना होगा। हम लोग ऐसा माहौल बनाएं कि हर कोई सुरक्षा के साथ वापसी कर सकें। हम सभी का फोकस एक ऐसे माहौल के निर्माण पर है, जहां हर कोई सेफ महसूस कर सके। उसके बाद हम कदम उठाएंगे।

बड़े बजट की फिल्म शूट करने की क्या रणनीति है?

अभी हम सबको वेट एंड वॉच की रणनीति अख्तियार करनी होगी। इकॉनमी की बेहतरी तो जरूरी है ही, लोगों की सुरक्षा भी उतनी ही जरूरी है। डांसर्स, स्टंट आर्टिस्ट जैसे कई हम सब पर आर्थिक रूप से निर्भर हैं। हम सबको एक कॉमन ग्राउंड ढूंढना होगा। वह आसान नहीं है हालांकि। हम कैसे आगे बढ़ पाएंगे इस पहलू पर सभी को छोटे-छोटे, मगर मजबूत कदम लेने होंगे। इसका मगर इस वक्त तो कोई जवाब नहीं है। हमें कदम लेने होंगे। प्रयोग करना होगा। उससे पता चलेगा कि हम कितनी कामयाबी से काम कर सकते हैं। 

क्या आप भी जल्द शुरू करेंगे शूटिंग?

प्रोड्यूसर्स गिल्ड और सरकार के द्वारा जो भी गाइडलाइंस आई हैं, उनको हम लोग पढ़ रहे हैं। समझने की कोशिश कर रहे हैं कि उनके द्वारा कैसे किफायत में फिल्म बन सके? मैं किसी और पर कोई कमेंट नहीं करना चाहूंगा कि उन्होंने क्या निर्णय लिया है? हम सरकार के साथ हैं और उनको सपोर्ट करना चाहते हैं। इससे कैसे डील किया जाए, उस बारे में किसी को पता नहीं है। तो हम लोग सरकार को सपोर्ट कर रहे हैं। उनकी गाइडलाइंस को फॉलो कर रहे हैं। जिस भी चीज को करने की इजाजत मिल रही है, उन्हें हम लोग लागू करने में लगे हुए हैं। पर हम लोगों के लिए सुरक्षा सर्वोच्च प्राथमिकता है।

क्या वरुण क्रिएटिव डिफरेंसेस से फिल्में होल्ड करनी पड़ी? 

वरुण और मेरे बीच कभी क्रिएटिव डिफरेंस हो ही नहीं सकते। वह इसलिए कि हम लोग हर आईडिया साथ में ही डिस्कस करते हैं। दरअसल फिल्म बनने के लिए दुर्भाग्य से बहुत सारी चीजें साथ आनी जरूरी होती है। एक्टर, उनकी तारीख बजट सब कुछ। उन दोनों फिल्मों में लंबी चौड़ी कलाकारों की फौज थी। सबकी एक साथ डेट्स मैच नहीं कर रही थीं। कुछ ना कुछ सही नहीं बैठ रहा था। मगर मुझे पूरा भरोसा है कि हम लोग साथ में बहुत जल्द कुछ ना कुछ करेंगे।





Source hyperlink